राजस्थान घर घर औषधि योजना 2024 | Ghar Ghar Aushadhi Yojana

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

Rajasthan Ghar Ghar Aushadhi:  राजस्थान सरकार ने एक महत्तकांशी योजना घर-घर औषधि योजना के तहत राजस्थान के सभी परिवारों को चार चयनित औषधीय जड़ी-बूटी के पौधे उपलब्ध कराए जाएंगे इस अभियान के तहत उन्हें चार औषधीय जड़ी-बूटी के पौधे (तुलसी, अश्वगंधा, गिलोय और कालमेघ) दिए जाएंगे।

 इस योजना के माध्यम से राज्य के प्रत्येक परिवार को तुलसी गिलोय कालमेघ और अश्वगंधा के दो दो पौधे निशुल्क उपलब्ध कराए जाएंगे। राजस्थान घर-घर औषधि योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाने वाले पौधे प्रत्येक परिवार को 5 साल तक मुहैया कराए जाएंगे। 

राजस्थान घर घर औषधि योजना क्या है?

राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान के नागरिकों के लिए निरोगी राजस्थान के संकल्प को साकार करने के लिए भावी पीढ़ी को भी इन औषधीय पौधों के महत्व और उपयोग की जानकारी देने के लिए घर घर औषधि योजना चालू की है, जहां राजस्थान के सभी परिवारों को चार चयनित औषधीय जड़ी-बूटी के पौधे उपलब्ध कराए जाएंगे। इस अभियान के तहत उन्हें चार औषधीय जड़ी-बूटी के पौधे (तुलसी, अश्वगंधा, गिलोय और कालमेघ) दिए जाएंगे।

Rajasthan Ghar Ghar Aushadhi Yojana Overviews

योजना का नाम घर घर औषधि योजना  (Rajasthan GGAY)
योजना शुरू की गई राजस्थान सरकार द्वारा
योजना से लाभ औषधीय पौधों का वितरण
योजना लाभार्थी राजस्थान के सभी निवासी
औषधि पौधा मिलेगा सरकारी नर्सरी से
ऑफिसियल वेबसाइट forest.rajasthan.gov.in

 

घर घर औषधि योजना राजस्थान का उद्देश्य 

देश में फैली महामारी के कारण कई लोगों ने अपनी जान खोई थी। जिन लोगों की इम्यूनिटी अच्छी थी वे इस महामारी से ग्रसित होने के बावजूद ठीक हो गए थे, लेकिन कमजोर इम्यूनिटी के लोगों ने इस महामारी के सामने घुटने टेक दिए थे। आने वाले समय में भी ऐसी महामारी आने का खतरा बरक़रार है, इसलिए राजस्थान सरकार अपने राज्य के लोगों को स्वास्थ्य रखने हेतु अपने स्वास्थ्य के प्रति लोगों को जागरूक बना रही है। आयुर्वेद में तुलसी, गिलोय, अश्वगंधा और कालमेध जैसे औषधीय पौधों को इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए अच्छी औषधि बताया है। 

  •  घर-घर औषधि योजना  का मुख्य उद्देश्य औषधीय पौधों को बढ़ावा देना, उनका संरक्षण करना है। ताकि लोग इनका इस्तेमाल कर खुद स्वस्थ रहे सकें
  • राज्य में औषधीय पौधे उगाने के इच्छुक परिवारों को स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए वन विभाग के वृक्षारोपण में बहुउपयोगी औषधीय पौधे उपलब्ध कराना।
  • मानव स्वास्थ्य सुरक्षा एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने तथा औषधि के लिए बहुउपयोगी औषधीय पौधों की उपयोगिता के बारे में व्यापक प्रचार प्रसार कर जन चेतना का विस्तार करना।

घर घर औषधि योजना की विशेषताएं

  • घर-घर औषधि योजना के तहत राजस्थान के लोगों को जन आधार कार्ड के माध्यम से पौधे वितरित किए जाएंगे।
  • घर-घर औषधि योजना के तहत कुल 5 सालों में पौधे वितरण के लिए 210 करोड़ों रुपए का व्यय किया जाएगा। घर-घर औषधि योजना का शुभारंभ 72वें वन महोत्सव के दौरान किया गया था।
  •  औषधीय पौधों की पहले किट राज्य वन मंत्री ने मुख्यमंत्री को भेंट की। मुख्यमंत्री जी ने ghar ghar aushadhi Yojana के व्यापक प्रचार प्रसार के लिए पोस्टर, ब्रोशर तथा बुकलेट का इंतजाम किया है।
  • Rajasthan ghar ghar aushadhi Yojana शुरू करने वाला देश का पहला राज्य है जिसमें औषधीय पौधों के प्रति जन जागरुकता बढ़ाने में मदद मिलेगी।
  • घर-घर औषधि योजना के तहत राजस्थान के एक करोड़ 26 लाख परिवार को पौधों का वितरण किया जाएगा। इसमें 5 वर्षों में 3 बार में 8-8 पौधों का वितरण होगा इस प्रकार 5 सालों में प्रत्येक परिवार को 24 पौधे प्राप्त होंगे।
  • ghar ghar aushadhi Yojana Rajasthan के तहत राज्य के प्रत्येक परिवार को तुलसी, गिलोय, कालमेघ तथा अश्वगंधा के पौधों का फ्री में वितरण होगा। इनका सामुदायिक स्तर पर व्यापक वृक्षारोपण किया जाएगा।

Rajasthan ghar ghar aushadhi Yojana Benifits लाभ

  • घर-घर औषधि योजना शुरू करने का मकसद लोगों में औषधीय पौधों के प्रति उनके उनके गुणों को जानने, उपयोग करने तथा उनके संरक्षण करने में लोगों को जागरूक करना है।
  • ghar ghar aushadhi Yojana के तहत औषधीय पौधों का उपयोग कर नागरिक अपने परिवार को रोगों से सुरक्षित रख सकते हैं तथा इस को बेचकर आर्थिक लाभ भी कमा सकते हैं।
  • ghar ghar aushadhi Yojana Rajasthan शुरू करने का उद्देश्य लोगों और पौधों के बीच संबंधों को मजबूत बनाना है साथ ही पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक होंगे।

राजस्थान घर घर औषधि योजना में सामिल औषधिया

घर-घर औषधि योजना के अंतर्गत 4 प्रकार की प्रजातियों के औषधीय पौधे आमजन को वितरित किये जायेंगे।

Rajasthan Ghar Ghar Aushadhi Yojana

  • गिलोय
  • तुलसी
  • अश्वमेघ
  • कालमेघ

राजस्थान घर घर औषधि योजना पात्रता

  • उम्मीदवार राजस्थान राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार के पास पौधे लगाने के लिए जगह होनी आवश्यक है।
  • उम्मीदवार औषधि की सही से देखभाल करने वाला होना चाहिए।

Ghar Ghar aushadhi yojana in hindi दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • जन आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • और अन्य जो जरूरत हो। 

Rajasthan Ghar Ghar Aushadhi Yojana Online Registration

वे इच्छुक उम्मीदवार जो Rajasthan Ghar Ghar Aushadhi Yojana  के तहत औषधीय पौधे प्राप्त करना चाहते है उन्हें GGAY एप्प के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके अलावा इसके अतिरिक्त नगर पंचायत, नगर निगम और नगर पालिका के माध्यम से पौधे वितरित किये जाएंगे। यह औषधीय पौधे हर साल मानसून शुरू होने से पहले ही बांटे जायेंगे। बाकी जल्द ही कोई अपडेट आएगा इस पर आप सभी को सूचित कर दया जायेगा।

निष्कर्ष

राजस्थान के निवासियों को समर्पित आज की पोस्ट में हमने घर-घर औषधि योजना के बारे में बताया । औषधि योजना में राजस्थान के सभी नागरिक को इस योजना का लाभ कैसे मिल सकता है आशा करता हूं आप सभी को यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आप इसे अन्य लोगों के साथ भी शेयर करेंगे।

Ghar Ghar aushadhi Yojana online apply importants links

Official Website Click Here 
Join Whatapps Click Here
Join Telegram Click Here

 

Leave a Comment