अगर नहीं चुका पा रहे हैं लोन तो न हों परेशान, यहां जाने अपने ये अधिकार । कर्ज न चुकाने की सजा

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

Bank Rules for Loan- नमस्कार दोस्तों आज हम आपको एक ऐसी जानकारी प्रदान करेंगे जो आपके जीवन में सदा काम आने वाले हैं क्या आपने कभी सोचा है कि आप किसी बैंक से लोन लेते हैं और उसको वापस नहीं करते हैं तो क्या बैंक आपको जेल भेज देगा या फिर आपकी प्रॉपर्टी को जप्त कर सकता है आज हम इस लेख के माध्यम से इसी बात पर चर्चा करने वाले हैं इसके साथ ही हम आपको आपका अधिकार बताएंगे कि यदि आपके पास साथ ऐसा हो चुका है तो आप इसे किस प्रकार सुरक्षित रह सकते हैं

अगर आप बैंक से लोन लेकर डिफाल्टर हो चुके हैं तो आप अपने पास यह अधिकार सुरक्षित रखते हैं

आपकी बात सुनने का अधिकार- अगर आप लोन न देने के कारण बैंक से डिफाल्टर हो चुके हैं फिर भी आप अपनी बात बैंक वालों के सामने रखने का अधिकार रखते हैं अर्थात आप बैंक वालों को लोन न देने का कारण बता सकते हैं जिसमें बिजनेस में घाट होना स्वास्थ्य खराब जैसे कहीं कारण होते हैं इसके साथ ही नौकरी छूटने जैसे कारण भी इसमें सम्मिलित किए जाते हैं। अर्थात आप अपनी बात मौखिक किया लिखित रूप से बैंक कर्मचारी या फिर मैनेजर को बता सकते हैं।

कांटेक्ट की शर्तों को मनाने का अधिकार-  बैंक क्या कोई भी बैंक का कर्मचारी किसी भी समय कर्जदार को लोन चुकाने के लिए शारीरिक या मानसिक रूप से प्रताड़ित नहीं कर सकता है एवं लोन लेते समय जिन शर्तों पर अपने लोन लिया है वह उनका बदला नहीं सकते हैं अगर बैंक या किसी अन्य थर्ड पार्टी संस्था द्वारा ऐसा किया जा रहा है तो आप इसके खिलाफ कार्यवाही कर सकते हैं बैंक के किसी भी कर्मचारी द्वारा सुबह 7:00 से पहले एवं शाम को 7:00 बजे के बाद कॉल नहीं कर सकते अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है तो यह अपराध की श्रेणी में आता है आप इसके खिलाफ कार्यवाही कर सकते हैं।.

सामान्य व्यवहार का अधिकार-  लोन न देने के कारण कोई भी बैंक का कर्मचारी आपके साथ बदतमीजी नहीं कर सकता अर्थात चिल्लाकर नहीं बोल सकता एवं शारीरिक रूप से प्रताड़ित नहीं कर सकता बैंक कर्मचारी आपसे बिल्कुल सामान्य रूप से बात कर सकता है अगर वह आपसे बदतमीजी से बात कर रहा है या गाली दे रहा है तो आप इसके खिलाफ कार्यवाही कर सकते हैं क्योंकि यह कहीं पर भी नहीं लिखा हुआ है कि लोन नहीं देने पर बैंक कर्मचारी आपके साथ बदतमीजी कर सकता है।

उचित मूल्य का अधिकार-  अगर आप होम लोन या कोई प्रॉपर्टी का लोन चुकाने में असमर्थ हैं और यह नीलामी की स्थिति में पहुंच गए हैं तो बैंक को नीलामी करवाने के लिए आपको कुछ दिन पहले नोटिस भेजना होगा जिसमें यह साफ लिखा होना चाहिए कि लोन न चुकाने के कारण हम आपकी संपत्ति की नीलामी करने जा रहे हैं अगर बैंक द्वारा ऐसा नोटिस नहीं भेजा जाता है तो आप इसके खिलाफ कार्यवाही कर सकते हैं यह अधिकार आप अपने पास सुरक्षित रखते हैं

Bank Rules for Loan